दोस्ती पर बेस्ट शायरी इन हिंदी।

Dosti Par Best Shayari In Hindi

दोस्ती पर बेस्ट शायरी इन हिंदी




'बेवफ़ा हूँ' ब्लॉग पर आपका स्वागत है।

दोस्तों आज मैं आपके लिए लेकर आया हूँ दोस्ती और शराब पर शायरी, जिसकी मांग हमारे शिमला में रहने वाले एक पाठक ने की है, और हम अपने पाठकों को कभी नाराज़ नहीं कर सकते । दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जो कभी - कभी भाई के रिश्ते से भी बड़ा हो जाता है क्यूंकि दोस्तों के बीच घर की ज़मीं का बंटवारा जैसे झगड़ों की कोई उम्मीद नहीं होती । दोस्त तो अपनी दोस्ती निभाता है और सदा साथ चलता है । सच्चा दोस्त सिर्फ़ उनको मिलता है जो रिश्तों की क़दर करना जानते हैं । अग़र आपका भी कोई सच्चा दोस्त है तो आप उसका नाम कमेंट सेक्शन में लिखें और उसकी एक अच्छी और एक बुरी आदत बताएं और दोस्तों हमारी आज की शायरी दोस्ती और शराब पर है पर इसका मतलब ये नहीं कि शराब बहुत अच्छी चीज़ है । शराब पीने से सिर्फ़ नुक़सान ही होता है तो इस लिए इससे दूर ही रहें और पढ़ते रहे हमारा ये ब्लॉग बेवफ़ा हूँ, तो आईये दोस्तों आज की शायरी का लुत्फ़ उठाते हैं और अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

दोस्ती पर बेस्ट शायरी इन हिंदी


Dosti Par Best Shayari In Hindi

दोस्ती पर बेस्ट शायरी इन हिंदी

दोस्ती पर नई शायरी

मुझको भला क्या मतलब मयख़ाने से,

मैं रोज़ उसकी निगाहों से जाम पीता हूँ।

-------*******-------

रोज़ मिलने का कहकर मुक़र जाता है,

कभी शराबी का भरोसा मत करना। 

-------*******-------

मेरे बारे में तो तूने सुना होगा,

अख़बार में पढ़ा होगा या देखा होगा,

सिग्रेट की ऐसी लगी है लत तू देख,

महफ़िल में आज धुआं ही धुआं होगा,

पीते-पीते कर देता हूँ मयख़ाने ख़ाली,

भला एक बोतल से मेरा क्या होगा।

-------*******-------

मुश्क़िल शब्द : - मयख़ाने = शराब के ठेके

-------*******-------

मेहमान बनकर आओगे तो भुगतोगे ख़ाम्याज़ा,

सिर्फ़ शराब है मेरे घर पर पीनी है तो आजा।

-------*******-------

मेरी दोस्त सुन, अच्छा नहीं लगता,

आपके मुँह से 'तुम' अच्छा नहीं लगता,

अच्छा-अच्छा कह दिया आपको क्या किसी ने,

अच्छा, अब आपको मैं अच्छा नहीं लगता।

-------*******-------

सिर्फ़ ग़म भुलाने के काम आती है,

शराब में कौनसा नशा होता है।

-------*******-------

दिल को दिल बनाकर रक्खो,

कि तोड़ने का दिल ना करे,

यार हो तो शराब जैसा,

जिसे छोड़ने का दिल ना करे।

-------*******------- 

अभी ताज़ा - ताज़ा दिल टूटा है,

हाथों से किसी का हाथ छूटा है,

फ़िर हम शराब क्युँ ना पीएँ,

हमने आज मयख़ाना लूटा है।

-------*******-------

नहीं ज़रूरत मुझको किसी माशूक़ा की,

चार यार काफ़ी हैं दफ़नाने के लिए।

-------*******-------

मेरी जगह पे आकर कभी देखिएगा ,

'मैं तेरी जगह होता तो' का पता चलेगा।

Dosti Par Best Shayari In Hindi

दोस्ती पर बेस्ट शायरी इन हिंदी

 

कविता को पढ़ने के बाद आपको कविता कैसी लगी अपने विचार हमारे साथ सांझा करें और हमें बताएँ कि हम अपनी कविताओं में और क्या सुधार ला सकते हैं : -

 

ईमेल: - blogbewafahoon@gmail.com

 




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ